शुक्रवार, 21 अगस्त 2009

कविता------बच्चे जानते है



बच्चे जानते है
----------------------------

बच्चे जानते है
घर का अर्थ

बच्चे जानते है
हाथी के दांत
दिखाने के और
खाने के और होते है

हम बहुत कुछ
भूलते जा रहे है

बच्चे दिखाते है
हमें चिडिया घर का रास्ता
बच्चे लेजाते है
हमें हमारे बचपन में

बच्चे जोड़ते है हमें
घर से
परिवार से
दुनिया से
प्रकृति से

बच्चे ले जाते है
हमें अपने साथ स्वप्न लोक में

हम बहुत कुछ
भूलते जा रहे है


बच्चे जानते है
प्रेम का अर्थ
बच्चे सिखाते है
हमें प्रेम करना
--------------