मंगलवार, 28 जून 2016

कविता

कविता 
--------------
समझ 
--------------
जब  तक   वे  एक - दूसरे  को 
नहीं समझते   थे 
तब    तक      वे 
समझ   ने   की   कोशिश  में 
एक - दूसरे  के  
नजदीक   आते   चले   गए 

जब  वे  एक -  दूसरे  समझ  गए 
तब  समझ  जाने  के   कारण 
एक  -  दूसरे   से 
दूर   होते   चले   गए 

दूर   ही  नहीं   होते   चले   गए 
एक - दूसरे   को 
समझ   लेने   की 
धमकी   भी    देते     चले   गए 
                  -----------